ऐसा कैसा टोल रोड, मूलभूत सुविधाएं भी नही, आएदिन हो रहे हादसे फिर भी टोल वसूली जारी

पत्रकार श्री पवन अग्रवाल की रिपोर्ट
वीरधरा न्यूज़। चिकारडा
डूँगला उपखंड के मंगलवाड़ निम्बाहेड़ा राज्य मार्ग पर आरएसआरडीसी द्वारा टोल रोड बनाया गया सड़क विकास निगम द्वारा टोल वसुल करने के बाद भी सडक का रखरखाव नही किया जात है जिसके चलते वाहन चालको को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। निम्बाहेड़ा से मगंलवाड़ के मध्य 40 किलोमीटर लम्बे राज्य मार्ग पर कही भी सफेद पट्टी लाइनिगं नही है तो कही भी चोराहो पर जेब्रा लाईन भी नही लगा रखी है। तो मुड़ाव पर कही भी संकेतक नही है। जिसके चलते एक्सीडेंट का खतरा मंडराता रहता है इसके साथ ही रोड पर बने स्पीड ब्रेकर पर भी कोई संकेतक नही होने से दुर्घटना का अंदेशा बना रहता है। चिकारड़ा में रोड़ के कम चौड़ाई होने से आये दिन एक से दो किलोमीटर लम्बा जाम लगता रहता है। इस राज्य मार्ग पर स्थित मुड़ाव पर कही भी रेलींग नही लगने से आये दिन हादसे होते रहते है। चिकारड़ा के हनुमान घाट रोड़ पर स्थित मुड़ाव पर रेलीगं नही होने से उक्त स्थान पर कई हादसे होते रहते है। वाहन चालक जामिन अली का कहना है कि जिस रोड़ का आरएसआरडीसी टोल वसुल रहा है तो उसके बदले सुविधा देना उनका कर्तव्य बनता है लेकिन सुविधा नही देने के चलते हादसे हो रहे है । वही टोल लेने का भी कोई अधिकार नही रह जाता , इसके साथ ही ग्राम के सामाजिक कार्यकर्ता हिम्मतलाल चोधरी द्वारा मुख्यमंत्री को भेजे मेल में बताया कि टोल नाके पर किसी भी प्रकार सुविधा उपलब्ध नही है रोड़ के दोनो और (1.25) सवा किलोमीटर तक रोड़ लाइट चालु तक नही है। ना ही टोल पर एम्बुलेन्स की सुविधा तो पानी की भी व्यवस्था नही की हुई है। ना क्रेन की व्यवस्था है कई साल बितने के बाद भी उक्त सुविधा टोल नाके पर उपलब्ध नही है कई बार ग्रामीणो द्वारा टोल पर सुविधाए उपलब्ध करवाने के लिए कहा गया इसके साथ ही संकेतक रेलीगं जेब्रा क्रासीगं लाइन जैसी सुविधा शीघ्र मुहैया कराने के बारे में लिखा गया। इसके साथ ही रोड से हो रही असुविधाओ की पुर्ति करने की मांग की।