10 सालों के बाद भाजपा के गढ़ में सेंध लगा, किया कांग्रेस ने पंचायत समिति पर कब्जा

वीरधरा न्यूज़। चित्तौड़गढ़ @ श्री दुर्गेश लक्षकार
चित्तौड़गढ़ जिले की गंगरार पंचायत समिति मैं विगत 10 वर्षों से भाजपा का राज है। पूर्व में जिला महामंत्री देवी सिंह राणावत की माता रूप कंवर राणावत प्रधान रही थी और उसके बाद देवी लाल जाट प्रधान के पद पर रहे थे। पंचायती राज चुनाव में पंचायत समिति सदस्यों के चुनाव में 15 वार्डों में से 8 वार्डों में कांग्रेस तो 7 वार्डों में भारतीय जनता पार्टी विजय रही। इसी क्रम में वार्ड नंबर 1 से भूतपूर्व जिला प्रमुख भैरो सिंह चौहान की पत्नी विजय रही। वहीं भाजपा के जिला महामंत्री देवी सिंह राणावत की पुत्री रवि राज कंवर ने वार्ड नंबर 10 से जीत हासिल की। गंगरार पंचायत समिति में भाजपा और कांग्रेस के बीच मात्र 1 सीट का अंतर होने से राजनीतिक उठापटक के कयास लगाए जा रहे थे कि कांग्रेस का अल्प बहुमत होने के साथ भाजपा अपना बोर्ड बना सकती हैं, लेकिन दबंग विधायक राजेंद्र सिंह बिधूड़ी के चलते उसके इस गढ़ में सेंध लगाना भाजपा के लिए मुश्किल हो गया। वर्तमान विधायक राजेंद्र सिंह बिधूड़ी ने वार्ड क्रमांक 10 में चोगांवड़ी निवासी रविंद्र सिंह राणावत उर्फ रवि बन्ना की माताजी लक्ष्मी कवर को मैदान में उतारा जिसके चलते जनता का अपार प्यार और भरपूर सहयोग ग्राम पंचायत पुठोली से इस बार कांग्रेस की प्रत्याशी लक्ष्मी कंवर को मिला और वह विजयी रही। लक्ष्मी कंवर का नाम प्रधान के लिए प्रत्याशी बनने के साथ ही घोषित कर दिया गया था और जीत के बाद तो जीत का ताज उनके सर पर ही आना था। आज गंगरार पंचायत समिति में हुए चुनाव में लक्ष्मी कंवर राणावत को गंगरार पंचायत समिति के लिए प्रधान चुन लिया गया जिससे क्षेत्रवासियों सहित कांग्रेस कार्यकर्ताओं में भारी हर्ष की लहर दौड़ पड़ी।