पति विधानसभा तो पत्नी संभालेगी पंचायत समिति, निर्विरोध प्रधान निर्वाचित।

वीरधरा न्यूज़। भदेसर @ श्री शेलेन्द्र जैन
भदेसर पंचायत समिति के प्रधान पद को लेकर जारी कशमकश आखिर तब समाप्त हुई जब भारतीय जनता पार्टी की ओर से कमलेश पुरोहित एवं नरेंद्र पोखरना पार्टी का सिंबल लेकर पहुंचे इससे पूर्व पंचायत समिति सदस्य के रूप में सुशीला कंवर, राम कंवर एवं पिंटू कुमावत के द्वारा पंचायत समिति सदस्य की शपथ उपखंड अधिकारी के द्वारा ली गई शपथ ग्रहण के पश्चात उन्हें पंचायत समिति सदस्य का प्रमाण पत्र सौंपा गया उसी दौरान प्रधान पद के लिए सुशीला कंवर के द्वारा नामांकन प्रस्तुत किया गया। नामांकन में समर्थक के रूप में राम कंवर एवं पिंटू कुमावत के द्वारा समर्थन दिया गया। निर्धारित समय तक मात्र एक नामांकन आने पर उपखंड अधिकारी के द्वारा सुशीला कंवर पत्नी चन्द्रभान सिंह आक्या को प्रधान के रूप में निर्विरोध विजेता घोषित किया गया पंचायत समिति परिसर में ही सुशीला कंवर को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई गई।

प्रधान पद को लेकर चलती रही कशमकश
भदेसर पंचायत समिति प्रधान पद को लेकर अंतिम समय तक भी असमंजस बना रहा। पूर्व में यहां पर भदेसर से जीती चित्तौड़गढ़ विधायक के करीबी रहे मंडल अध्यक्ष पवन अचार्य की पत्नी सीमा शर्मा के द्वारा नामांकन प्रस्तुत करने की चर्चा थी इसी प्रकार भादसोड़ा मंडल अध्यक्ष विजय सिंह की पत्नी राम कंवर के भी प्रधान की चर्चा थी परंतु रामकंवर को हरी झंडी नहीं मिलने पर भादसोड़ा मंडल अध्यक्ष के पद से विजय सिंह ने इस्तीफा जिलाध्यक्ष को सौंप दिया था विजय सिंह के द्वारा इस्तीफा सौंपे जाने के पश्चात भदेसर मंडल अध्यक्ष पवन आचार्य एवं उनके समर्थक पूरी तरह आश्वस्त थे कि प्रधान का पद सीमा शर्मा को मिलेगा परंतु अंतिम क्षणों में प्रधान पद पर सुशीला कंवर ने नामांकन भरा एवं उन्होंने पद व गोपनीयता की शपथ ली।

Don`t copy text!