राजस्थान शिक्षक संघ (राष्ट्रीय )ने दीपावली अवकाश की घोषणा के साथ बोनस भुगतान के आदेश भी जारी करने की मांग।

चित्तौड़गढ़
राजस्थान शिक्षक संघ( राष्ट्रीय ) के जिला अध्यक्ष तेजपाल सिंह शक्तावत ने बताया कि विगत दिनों समाचार पत्रों से यह ज्ञात हो रहा है कि शिक्षा विभाग स्कूलों में माह नवंबर 2020 में आने वाले दीपावली अवकाश को निरस्त करने की मंशा रखता है। ऐसे में संपूर्ण शिक्षक समाज में नाराजगी व्याप्त है।
संगठन के प्रदेश महामंत्री अरविंद व्यास ने मुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री को पत्र भेजकर पूर्ववत 11 दिनों के दीपावली अवकाश को यथावत रखते हुए माह नवंबर 2020 का शिविरा पंचांग जारी करने की मांग करते हुए लिखा कि कोरोना महामारी के कारण शिक्षक मार्च 2020 से निरंतर अपनी सेवाएं दे रहे हैं, इसकी रोकथाम हेतु विभिन्न कार्यों में शिक्षकों की ड्यूटी लगाई जाने से ये ग्रीष्मावकाश का उपभोग भी नहीं कर सके हैं। राज्य सरकार ने 16 नवंबर तक विद्यालयों में बच्चों के लिए अवकाश घोषित कर दिया ऐसे में शिक्षकों को दीपावली अवकाश देना उचित होगा।
प्रदेश अध्यक्ष संपत सिंह ने बताया कि दीपावली सबसे बड़ा त्यौहार है। ऐसे में शिक्षक व उनका परिवार उक्त त्योहार साथ में मनाने की अपेक्षा रखता है ।साथ ही दीपावली व अन्य अवकाश के कारण शिक्षकों को दूसरे कार्मीको की तरह 30 उपार्जित अवकाश के बजाय 15 उपार्जित अवकाश ही प्रदान किए जाते हैं। अतः दीपावली अवकाश यथावत रख शिक्षकों को राहत प्रदान की जावे।
प्रदेश संगठन मंत्री प्रहलाद शर्मा ने कहा कि दीपावली से एक सप्ताह पूर्व शिक्षकों व कार्मिकों के बोनस भुगतान के आदेश जारी किए जाए ।
माध्यमिक सचिव रमेश चंद्र पुष्करणा, कार्यालय मंत्री गोपाल लाल शर्मा, विभाग संगठन मंत्री हीरा लाल लोहार ,निशा साल्वे ,जिलाध्यक्ष तेजपाल सिंह शक्तावत, सभा अध्यक्ष सैयद मुकर्रम अली, वरिष्ठ उपाध्यक्ष रमेश चंद्र पुरोहित, जिला मंत्री प्रकाश चंद्र बक्शी, संगठन मंत्री राजेंद्र कुमार मिश्रा व इंदिरा शर्मा, महिला मंत्री पवन शेखावत ,कोषाध्यक्ष नर्बदा शंकर पुष्करणा सहित जिला कार्यकारिणी व सभी उपशाखाओ के पदाधिकारियों ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा केन्द्रीय कर्मचारियों को बोनस देने की घोषणा कर दी गई है किंतु राज्य कर्मचारियों के लिए दीपावली बोनस की घोषणा राजस्थान सरकार ने अब तक नहीं की है ।
सरकार द्वारा बोनस की घोषणा के पश्चात वित्तीय स्वीकृति व बिल बनाने तथा कोष कार्यालय से पास होने की प्रक्रिया में अत्यधिक समय व्यतीत होता है ऐसे में कई बार दीपावली त्यौहार से पूर्व बोनस भुगतान नहीं हो पाता है अतः जल्द ही दीपावली अवकाश के साथ ही बोनस भुगतान के आदेश जारी किए जाएं।

Don`t copy text!