अब सैनिक स्कूलों में भी ओबीसी को मिलेगा 27 फीसदी आरक्षण का लाभ

सैनिक स्कूलों में प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। कक्षा 6 और कक्षा 9वीं में प्रवेश लेने के इच्छुक विद्यार्थी ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। अब सैनिक स्कूलों में भी ओबीसी वर्ग के विद्यार्थियों को 27 फीसदी आरक्षण का लाभ दिया जाएगा। भारत सरकार के रक्षा सचिव अजय कुमार ने इस संबंध में घोषणा की है।

अजय कुमार ने ट्वीट के जरिए बताया है कि सैनिक स्कूलों में भी अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों को 27 फीसदी आरक्षण का लाभ दिया जाएगा। शैक्षणिक सत्र 2021-22 से ही इसे लागू किया जा रहा है। इस संबंध में सभी सैनिक स्कूलों के प्राचार्यों को आदेश का सर्कुलर भेज दिया गया है। इस बार से छात्राओं के प्रवेश के लिए भी बालाछड़ी सैनिक स्कूल ने प्रवेश प्रारंभ कर दिए हैं।

रक्षा सचिव ने ट्विटर पर सर्कुलर की फोटो भी शेयर की है। इसमें बताया है कि सैनिक स्कूलों में 67 फीसदी सीटें उस राज्य या केंद्रशासित प्रदेश के स्टूडेंट्स के लिए आरक्षित होती हैं जहां वह स्कूल स्थित होता है। शेष 33 फीसदी पर अन्य राज्यों या केंद्रशासित प्रदेशों के स्टूडेंट्स का एडमिशन होता है। इसके लिए दो लिस्ट तैयार होती है – ए और बी।

अब हर लिस्ट में 15 फीसदी सीटें अनुसूचित जाति के लिए, 7.5 फीसदी अनुसूचित जनजाति के लिए और 27 फीसदी सीटें ओबीसी वर्ग (नॉन क्रीमी लेयर) के लिए आरक्षित रहेंगी।

वर्तमान में देश में कुल 33 सैनिक स्कूल संचालित हो रहे हैं। इनका संचालन रक्षा मंत्रालय (Defence Ministry) के अधीन सैनिक स्कूल्स सोसायटी (Sainik Schools Society) द्वारा किया जाता है।

Don`t copy text!