कश्मीर में आतंकी हमला, श्रीनगर में सुरक्षा बलों पर हमले में 2 जवान शहीद

रिपोर्ट चौहान न्यूज़ एजेंसी
वीरधरा न्यूज़। चित्तौड़गढ़
श्रीनगर एचएमटी इलाके में गुरुवार को आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर आतंकी हमला किया। इस हमले में दो जवान शहीद हो गए। यह हमला मुंबई हमले की 12वीं बरसी पर किया गया। जम्मू-कश्मीर में 2 दिन बाद यानी 28 नवंबर से जिला विकास परिषद के चुनाव भी होने हैं।

उधर, पाकिस्तान ने एक बार फिर लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) पर सीजफायर वॉयलेशन किया। इसमें भारतीय सेना के एक जूनियर कमीशंड ऑफिसर शहीद हो गए। पुंछ इलाके में LoC पर पाकिस्तान लगातार फायरिंग कर रहा है। 4 दिन पहले भी पुंछ के देगवार, माल्टी और दल्लान इलाकों में पाकिस्तान ने फायरिंग की थी।

*पेट्रोलिंग पार्टी पर फायरिंग कर आतंकी भागे*

आतंकवादियों ने शरीफाबाद में श्रीनगर-बारामूला हाईवे पर एक पेट्रोलिंग पार्टी पर हमला किया। सूत्रों के मुताबिक, आतंकियों ने लगातार पेट्रोलिंग पार्टी पर फायरिंग की और इसमें दो जवान गंभीर रूप से घायल हो गए। बाद में उन्होंने दम तोड़ दिया।

कश्मीर पुलिस के IG ने बताया कि तीन आतंकियों ने सेना के जवानों पर फायरिंग शुरू कर दी थी। हमले के बाद आतंकी कार से भाग गए। इलाके में जैश ए मोहम्मद के आतंकी सक्रिय हैं। हमले की पीछे किस ग्रुप का हाथ है, इसका पता लगाया जा रहा है।

*घुसपैठ की दो कोशिशें हुईं, 7 आतंकवादी ढेर*

आज हुए हमले से 7 दिन पहले नगरोटा में सेना और सुरक्षाबलों ने जैश के 4 आतंकवादियों को मार गिराया था। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने कहा था कि ये आतंकवादी चुनाव से पहले बड़ा अटैक करने की साजिश रच रहे थे। पाकिस्तान में बैठा मसूद अजहर का भाई रऊफ लाला इनका हैंडलर था।

इससे पहले भी 8 नवंबर को कुपवाड़ा में पाकिस्तानी आतंकवादियों ने घुसपैठ की कोशिश की थी। सेना और बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स ने जॉइंट ऑपरेशन में 3 आतंकवादियों को ढेर कर दिया था। मुठभेड़ में सेना के कैप्टन समेत 3 जवान भी शहीद हो गए।

Don`t copy text!