जिला कलेक्टर ने बेजुबान कुत्तों के लिए बाँटी कम्बल, बर्खास्त पुलिसकर्मी कर गया चोरी

वीरधरा न्यूज़। चित्तौरगढ़ @ श्री दुर्गेश लक्षकार
चित्तौड़गढ़ शहर के कुम्भानगर क्षेत्र की एक महिला कई वर्षों से विमुख बेजुबान जानवरों की सेवा कर उन्हें 80 से 100 रूपये के मध्य के बिस्किट एवं पोए खिलाती है हमारी टीम के एक सदस्य ने उन्हें ऐसा करते देखा तो जिज्ञासावश उनके पास जाकर उनसे साक्षात्कार किया बुजुर्ग महिला से पूछने पर उन्होंने बताया कि वह कई सालों से इन बेजुबानों को बिस्किट व अन्य भोजन खिलाकर उन्हें अपने ही बच्चों के समान दुलार करती है साथ ही उन्होंने एक ह्रदय विस्मित कर देने वाली घटना भी बता ड़ाली इस बूढ़ी सेवाभावी महिला के बयान के अनुसार माननीय जिला कलेक्टर महोदय ने पिछले कुछ दिनों पूर्व कलेक्ट्रेट परिसर व आसपास में रहने वाले बेजुबान जानवरो कुत्तों के लिए अपने ही हाथों से कंबल वितरण कर उनके सर्दी से बचने की व्यवस्था की थी। यह एक बहुत अच्छा नेक काम कलक्टर साहब द्वारा किया गया था, किन्तु उन कम्बलों पर कोई गिद्ध सी दृष्टि भी गड़ाये बैठा था। इससे प्रशासन अन्जान था कि कोई इन बैजुबानों की कम्बल तक ले उडा सकता है और ऐसा हो भी गया जो कम्बल कलक्टर साहब ने कुत्तों को सर्दी से बचाने के लिए दी थी उनमें से तीन कंबल भारत सिंह नाम का आदमी जो कि पहले पुलिस सेवा में रह चुका है और इस बुजुर्ग महिला के बताए अनुसार वह पुलिस सेवा से बर्खास्त है परसों वह उस महिला के सामने कलेक्टर साहब द्वारा दी गई कम्बलों को उठाकर ले गया जिससे इन बेजुबान जानवरों का हक और अधिकार एक अमानवीय कृत्य के द्वारा क्रूरता कर, दिल दहलाने वाली घटना है और चोरी के साथ साथ पशु क्रूरता अधिनियम के तहत कानूनन अपराध की श्रेणी में आता है।

 

बेजुबानों की सेवा करती बुजुर्ग महिला

अब देखना यह है कि इन बेजुबान जानवरों के संसाधनों की चोरी को प्रशासन प्रसंज्ञान लेकर कितनी गंभीरता से लेता है।