एक साल की मासुम ओर 11 माह के बच्चे के लिए रक्तदान कर दिया जीवनदान

वीरधरा न्यूज़।चित्तौड़गढ़ @डेस्क।

चित्तौड़गढ़ ही नही बल्कि देश भर में रक्तसेवा देकर एटीबीएफ संस्थान जरूरतमन्दों के लिए संजीवनी का काम कर रही है।
आचार्य श्री तुलसी ब्लड फाउंडेशन के संस्थापक सुनील ढ़ीलिवाल ने बताया कि जहा ब्लड बैंक रक्त की कमी से जूझ रहा है वही एटीबीएफ के कॉर्डिनेटर दौड़ दौड़ कर लाइव रक्तदान करवाकर लोगो की जान बचा रहे है, ऐसा ही एक मामला आया जिसमे जिला चिकित्सालय में भर्ती एक साल की मासुम बच्ची मुस्कान को फ्रेस ब्लड की आवश्यकता थी इस पर एटीबीएफ सोशल मीडिया ग्रुप से सूचना मिलते ही शहर निवासी महिला रक्तदाता निक्की अग्रवाल ने एटीबीएफ से जुड़कर संस्थान में प्रथम बार रक्तदान करते हुए मासुम को जीवनदान दिया।
इधर कॉर्डिनेटर लक्ष्मण छिपा ने बताया कि 11 माह का एक बच्चा जो जिला चिकित्सालय में भर्ती था जिसको अर्जेंट फ्रेस ब्लड की आवश्यकता थी और ए नेगेटिव जो कि बहुत दुर्लभ ब्लड ग्रुप है और ब्लड बैंक में भी उपलब्ध नही रहता इस पर एटीबीएफ कॉर्डिनेटर दिनेश वैष्णव ने जीवन का 23 वा रक्तदान कर मासुम को नया जीवन दिया। साथ ही अन्य जीवनदान केस में नीतीश छिपा, अक्षत दाधीच, अभिनव जोशी, हर्षित व्यास, रियाज खान, अनिल शर्मा, कमलेश शर्मा शंभूपुरा , आशोक सोमानी आदि ने भी रक्तदान कर जरूरतमन्दों को जीवनदान दिया।