बेटी के पीले हाथ करने से पहले खुद के हाथ किए मेले, 3000 रु की रिश्वत में ट्रैप हुआ घुसखोर हैड कांस्टेबल

पत्रकार श्री आशीष नुवाल कि रिपोर्ट
चित्तौड़गढ़

दौसा जिले के मंडावर थाने इलाके में मारपीट के एक मामले में दौसा एसीबी की टीम ने गुरुवार को कार्यवाही करते हुए मंडावर थाने के हैंड कांस्टेबल चतरुराम को तीन हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। जानकारी के अनुसार रीदली निवासी एक जने ने थाना पुलिस में मारपीट का एक मामला करीब महीने भर पहले दर्ज करवाया था। जिस में चतरुराम हैड कांस्टेबल जांच अधिकारी था। जिसने आरोपी अजय पुत्र पप्पू राम बैरवा से मामले में राजीनामा शामिल करने व धारा हटाने की एवज में 5 हजार रुपये रिश्वत की मांग की । जिसमे पप्पू राम बैरवा ने हैड कांस्टेबल को 2 हजार रुपये की रिश्वत पूर्व में दे दी। वही जिसकी शिकायत पप्पू ने दौसा एसीबी में की जिस पर एसीबी ने 27 अक्टूबर  को मामले का सत्यापन कर लिया। जिस पर एसीबी की टीम ने पुलिस निरीक्षक विजय सिंह के नेतृत्व में जाल बिछाया । जिस पर घूस खोर हैड कांस्टेबल को एसीबी की टीम ने 3 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ धर दबोचा। एसीबी की टीम ने घूंस खोर हैड कांस्टेबल से थाने के बंद कमरे में पूछताछ की। पूछताछ के दौरान घूस खोर हैड कांस्टेबल ने मुँह छिपाता रहा। वही एसीबी की कार्यवाही की सूचना मिलते ही मंडावर थाने में हड़कम्प मच गया। थाने के पुलिस कर्मी थाने की दीवार फांद कर भाग छुटे। वही कार्यवाही के दौरान थाना इंचार्ज लालसिंह भी परेशान दिखे। गौरतलब है कि घूसखोर हैड कांस्टेबल की लड़की की शादी भी 10 दिसम्बर को होनी है। और बेटी के पीले हाथ करने से पहले रिश्वत लेकर खुद के हाथ मेले कर बैठा ओर एसीबी के हत्थे चढ़ा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!