ड्राइवर को नींद की झपकी आई तो एम्बुलेंस ट्राले से जा भिड़ी 3 की मौत

चौहान न्यूज़ एजेंसी की रिपोर्ट
भरतपुर.
दिवाली के त्यौहार से एक दिन पहले एक परिवार पर दुखों का कहर टूट पड़ा। भरतपुर के सेवर थाना क्षेत्र में शुक्रवार को एक एंबुलेंस और ट्राले में हुई भिड़ंत में 3 लोगों की मौत हो गई। एंबुलेंस एक गंभीर पेशेंट को लेकर जयपुर जा रही थी। रास्ते में ही उसकी मौत हो जाने पर भरतपुर लौटते समय हादसा हुआ। हादसे में मृतक के बेटे और उसके दो दोस्तों की मौत हो गई। हादसा इतना भीषण था कि एंबुलेंस बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। बताया जा रहा है कि ड्राइवर को नींद की झपकी आ गई। इससे एंबुलेंस सामने से आ रहे ट्राले से टकरा गई।

जानकारी के अनुसार, भरतपुर निवासी दिलीप कुमार सैनी की बीती रात को तबीयत खराब हुई थी। उसे अस्पताल ले जाया गया। हालत गंभीर होने पर जयपुर रैफर कर दिया गया। तड़के दिलीप को एंबुलेंस से जयपुर ले जाया जा रहा था।

भरतपुर लौटते समय एंबुलेंस ट्राले से टकराई
एंबुलेंस में दिलीप का पत्नी मनीषा, उनके बेटे रॉबिन और हिमांशु और रॉबिन के दोस्त नितिन शर्मा और कृष्ण गोपाल सवार थे। भरतपुर से निकलते ही दिलीप की मौत हो गई। इस पर ये लोग भरतपुर लौट रहे थे। जयपुर-भरतपुर नेशनल हाइवे पर सेवर थाना क्षेत्र में रिलायंस पेट्रोल पंप के पास ड्राइवर को नींद की झपकी आ गई। इससे एंबुलेंस सामने से आ रहे ट्राले से टकरा गई।

हादसा इतना भीषण था कि एंबुलेंस बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। रॉबिन तथा उसके दोस्तों नितिन और कृष्ण गोपाल की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं पत्नी मनीषा, दूसरे बेटे हिंमांशु और एंबुलेंस का ड्राइवर राजा बाबू घायल हो गए। सूचना पर पुलिस वहां पहुंची तथा घायलों को तथा शवों को आरबीएम अस्पताल पहुंचाया।

Don`t copy text!