जयपुर, चित्तौड़गढ़ सरस डेयरी एवं रसद विभाग की टीम द्वारा निम्बाहेड़ा में लिए गए खाद्य सामग्री जाँच के नमूने, दुकानदारों में मचा हड़कंप

निम्बाहेड़ा
राज्य सरकार द्वारा चलाये जा रहे “शुद्ध के लिए युद्ध” अभियान के अंतर्गत चित्तौड़गढ़ जिला कलेक्टर के.के शर्मा द्वारा अभियान को सफल बनाने के निर्देशन हेतु निम्बाहेड़ा उपखंड अधिकारी चन्द्रशेखर भंड़ारी के नेतृत्व एवं डिप्टी जगराम मीणा के सहयोग से निम्बाहेड़ा क्षेत्र के ग्राम केली में पहुँच टिम द्वारा आज की पहली बड़ी कार्यवाही करते हुए मुकेश किराना स्टोर, दूसरी बड़ी कार्यवाही करते हुए इंडस्ट्री एरिया स्थित “डागा होम फैक्टरी” (नमकीन वाले) एवं तीसरी कार्यवाही निम्बाहेड़ा नगर के इन्द्रा कॉलोनी स्थित संजीवनी इंटरप्राइजेज (लहसुन वाले) के यहाँ की गई और खाद्य जांच के नमूने लिए गए।


मिलावटखोरों के खिलाफ प्रदेश में शुद्ध के लिए युद्ध अभियान, शुरु हो चुका है । इसमें मिलावटी खाद्य सामग्री बनाने और बेचने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी। इस अभियान की मॉनिटरिंग चिकित्सा विभाग करेगा। अभियान में दूध, मावा, पनीर, दूध उत्पाद, आटा, बेसन, खाद्य तेल एवं घी, सूखे मेवे, मसालों की जांच की जाएगी।


राज्य सरकार ने इस अभियान को प्रभावी बनाने के लिए एक कोर ग्रुप का गठन किया है। जिसमें गृह विभाग के प्रमुख शासन सचिव, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के शासन सचिव और पशुपालन एवं डेयरी विभाग के शासन सचिव शामिल होंगे, जबकि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग समन्वयक की भूमिका निभाएगा। चिकित्सा विभाग ही इस ग्रुप का प्रशासनिक विभाग भी होगा। यह कोर ग्रुप जिला स्तर पर प्रबंधन समितियों एवं जिला कलक्टर से संपर्क कर अभियान की अवधि में खाद्य पदार्थों में मिलावट करने वाले थोक और खुदरा व्यापारियों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई करेगा। उनके खिलाफ लीगल एक्शन की मॉनिटरिंग करेगा। ताकि, मिलावटखोरों पर कार्रवाई कर सजा दिलवाई जा सके।


यह कार्यवाही विशेष टिम जयपुर डी.एफ.आई संदीप अग्रवाल, विशाल मित्तल एवं चित्तौड़गढ़ जिला उद्योग विभाग इंस्पेक्टर सन्ध्या अग्रवाल, जिला सरस डेयरी की मय टिम एवं चिकित्सा विभाग से निम्बाहेड़ा बीसीएमओ डॉ. सुनील कुमार तेली, वाहन चालक नाहर खान एवं निम्बाहेड़ा सब इंस्पेक्टर अम्बालाल मीणा, कॉन्स्टेबल मो. आमीन, सचेतन आदि टिम द्वारा की गई।