निम्बाहेड़ा अस्पताल में होने लगे आंखों के ऑपरेशन, जैन मुनि सिद्धरत्न विजय की आंखो का हुआ सफल ऑपरेशन

पत्रकार श्री एसएस अग्रवाल की रिपोर्ट

निम्बाहेड़ा
सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना के प्रयास से राजकीय उप जिला अस्पताल में पहली बार पदस्थ हुए नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. महेंद्र कुमार की मेहनत नेत्र रोगियों के लिए वरदान साबित होने लगी है और कोरोना वायरस के चलते लगे लॉकडाउन के बाद अब फिर से अस्पताल में ही नेत्र रोग संबंधी ईलाज एवं ऑपरेशन होने से रोगियों को राहत मिलने लगी है।
जी हां सरकारी अस्पताल में पदस्थ नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. महेन्द्र कुमार एवं उनकी टीम द्वारा कई जटिल ऑपरेशन किए गए हैं। गौरतलब है कि संसाधनों के अभाव के बावजूद भी निम्बाहेडा अस्पताल में आंखों के रोगों का सफल ईलाज किया जा रहा है। यहां ऑपरेशन होने के कारण मरीजों को भारी आर्थिक बचत होने के साथ साथ समय की बचत भी होने लगी है क्योंकि निम्बाहेडा में किसी भी नेत्र रोग विशेषज्ञ के नहीं होने के कारण मरीजों को भीलवाड़ा नीमच अहमदाबाद की ओर जाना पडता था जिससे समय के साथ पैसा भी खर्च करना पड़ता था। डॉक्टर महेंद्र कुमार के सरकारी अस्पताल में पदस्थ होने के बाद नागरिकों को यहीं सारी सुविधाएं समय पर मिलने लगी है।
उल्लेखनीय है कि श्री राजेन्द्रसूरि ज्ञान मंदिर में चातुर्मास के लिए विराजित मुनिराज श्रीसिद्धरत्नजी की आंख के मोतियाबिंद का सफल आपरेशन सफलता पूर्वक सम्पन्न हुआ। डॉ. महेन्द्र कुमार के साथ नेत्र सहायक शिवरामसिंह निगम, ईलमास अहमद गौरी एवं यहायक कर्मचारी सुरेश मीणा पूरी मुस्तैदी से जुटे हुए हैं। मुनिराज की आंख में लगाए गए लेंस और दी गई दवाओं की जानकारी अहमदाबाद के सुपर आई स्पेस्लिस्ट डॉ. कुणाल शाह को मिलने पर उन्होंने संतोष जताते हुए डॉ. महेन्द्र कुमार एवं उनकी टीम को धन्यवाद ज्ञापित किया।

Don`t copy text!