खाप पंचायत ने किया था हुक्कापानी बन्द अब पुलिस ने ऐसे 11 पंचों को किया गिरफ्तार, जेल भेजा

वीरधरा न्यूज़।शंभूपुरा@ डेस्क।
शंभूपुरा थानांतर्गत मायरा गांव में डाँगी समाज की एक खाप पंचायत में तुगलकी फरमान सुनाया गया और बाल विवाह और मृत्युभोज के खिलाफ आवाज उठाने के बदले खाप पंचायत ने तुगलकी फरमान सुनाते हुए हुक्कापानी बन्द कर समाज से बहिष्कृत कर दिया।
सतखंडा निवासी शिवलाल डाँगी ने रिपोर्ट दी कि वो लम्बे समय से बाल विवाह और मृत्यु भोज जैसी रूढ़िवादी परम्पराओ जिन पर सरकार ने भी रोक लगा रखी उनका विरोध कर रहा था जो कि समाज के पंचों को गंवारा नही गया और उन्होंने एक बैठक में अपना तुगलकी फरमान सुनाते हुए मेरा समाज से हुक्कापानी बन्द कर दिया ओर समाज से बहिष्कृत कर अपमानित किया।
शंभूपुरा थानाधिकारी कैलाश चन्द्र सोनी ने बताया कि प्रार्थी की रिपोर्ट ओर उच्चाधिकारियों के आदेश के बाद जांच में पाए गए दोषियों को गिरफ्तार किया गया जिसमें शांतिलाल पिता नारायण डाँगी गिलुण्ड, भंवरलाल पिता पोखर डाँगी सतखंडा, भंवरलाल पिता हंसराज डाँगी मायरा, हीरालाल पिता रामलाल डाँगी सतखंडा, शांतिलाल पिता चुन्नीलाल डाँगी ठिकरिया, वरदा पिता नाथू डाँगी सतखंडा, हीरालाल पिता बेनीराम डाँगी सांगरिया, भेरूलाल पिता रामलाल डाँगी मेडी का अमराना, भगवान पिता वरदा डाँगी सतखंडा, प्यारचंद पिता नारायण डाँगी गिलुण्ड, रामचंद्र पिता तुलसीराम डाँगी मायरा इन सभी 11 लोगो को गिरफ्तार कर शनिवार को न्यायलय में पेश किया जिन्हें जेल भेज दिया गया।