अपनी उर्जा को पॉजिटिव और पावरफुल बनाएं तो कभी बीमार नहीं पड़ेंगे – डॉ मुनि शांतिप्रिय सागर

वीरधरा न्यूज़। इंदौर @ डेस्क
इंदौर, 29 नवंबर। डॉ मुनि शांतिप्रिय सागर महाराज ने कहा कि पूरा ब्रह्मांड ऊर्जा मय है और हमारा शरीर भी छोटा ब्रह्मांड है जो ऊर्जा से संचालित होता है। अगर शरीर से उर्जा निकल जाए तो शरीर शव बन जाता है। उन्होंने कहा कि अगर ऊर्जा नकारात्मक हो जाए तो इंसान पर रोग हावी हो जाते हैं, चिंता और तनाव बढ़ जाते हैं, घर परिवार और जीवन में अशांति फैल जाती है। अगर हम अपनी ऊर्जा को पॉजिटिव और पावरफुल बना लें तो कभी बीमार नहीं पड़ेंगे। उन्होंने कहा कि ऊर्जा दो तरह की है सकारात्मक ऊर्जा और नकारात्मक ऊर्जा। जब नकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है तो इंसान शैतान जैसा बन जाता है और सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है तो इंसान भगवान जैसा बन जाता है। संबोधि पावर योगा का उद्देश्य है ऊर्जा को सकारात्मक शक्तिशाली और शुद्ध बनाना ताकि इंसान चलता फिरता देवता बन सके। जिसकी ऊर्जा नकारात्मक होती है वह अच्छा करने वालों के साथ भी बुरा करता है, पर जिनकी ऊर्जा सकारात्मक होती है वह बुरा करने वालों के साथ भी अच्छा व्यवहार किया करते हैं। जो अच्छे के साथ गलत करें वह शैतान है, जो अच्छे के साथ अच्छा और बुरे के साथ बुरा करे वह इंसान है, पर जो बुरा करने वाले का भी अच्छा करें वह भगवान है।
उन्होंने कहा कि नेगेटिव एनर्जी को पॉजिटिव एनर्जी में बदलने के लिए हम संकल्प लें कि मुझे अपनी ऊर्जा को सकारात्मक बनाना है और रोज सुबह उठकर ये पांच वाक्य जोर से अपने आप से बोलें – आई एम पॉजिटिव सोल, आई एम पावरफुल सोल, आई एम परफेक्ट सोल, आई एम पीसफुल सोल, आई एम प्योर सोल।
प्रोग्राम में मुनिप्रवर ने ऑनलाइन देशभर से जुड़े हुए सैकड़ों साधकों को 11 थेरेपी, सूर्य नमस्कार और संबोधि ध्यान के द्वारा सकारात्मक ऊर्जा जागरण के प्रयोग करवाएं।
संघ अध्यक्ष धर्मेंद्र मेहता ने बताया कि कल 30 नवंबर सोमवार को कार्तिक पूर्णिमा के दिवस पर महावीर बाग में विशेष आयोजन होंगे। इस दौरान सुबह 7 बजे शत्रुंजय पट स्थापना होगी एवं राष्ट्र संत ललितप्रभ महाराज के द्वारा कार्तिक पूर्णिमा की आराधना करवाई जाएगी व 9 बजे साध्वी विनीता श्री महाराज की प्रतिमा स्थापित होगी। इस दौरान मधुर गायिका आदिति कोठारी द्वारा भजनों की प्रस्तुति दी जाएगी।

Don`t copy text!