बुजूर्गों ने किया सर्वाधिक मतदान, नव मतदाताओं में भी रहा उत्साह,बूथों पर अधिकतम 90.34 एवं न्यूनतम 30.36 प्रतिशत मतदान

चित्तौड़गढ़ 24 नवम्बर। पंचायतीराज चुनाव 2020 के प्रथम चरण में जिले की तीन पंचायत समितियों कपासन, राशमी एवं भूपालसागर में 64.01 प्रतिशत मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया। तीनों पंचायत समितियों के कुल 1 लाख 99 हजार 538 मतदाताओं में से 1 लाख 27 हजार 716 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इसमें पुरूष मतदाताओं ने 67.05 प्रतिशत और महिला मतदाताओं ने 60.96 प्रतिशत मताधिकार का प्रयोग किया। राशमी पंचायत समिति में सर्वाधिक 68.34 प्रतिशत पुरूष मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया वहीं भूपालसागर पं.स. में सर्वाधिक 61.78 प्रतिशत महिला मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया। तीनो पंचायत समितियों में कोविड संक्रमित किसी भी मतदाता ने मताधिकार का प्रयोग नहीं किया।

सर्वाधिक मतदान राशमी पंचायत समिति में

तीनों पंचायत समितियों में से सर्वाधिक मतदान राशमी पंचांयत समिति में 64.53 प्रतिशत हुआ वहीं सबसे कम कपासन में 63.58 प्रतिशत रहा। राशमी में पुरूष और महिला मतदान का प्रतिशत क्रमशः 68.34 और 60.79 प्रतिशत रहा। कपासन में कुल मतदान 63.58 प्रतिशत तथा पुरूष और महिला मतदान का प्रतिशत क्रमशः 66.75 और 60.40 प्रतिशत रहा। भूपालसागर  में कुल मतदान 63.91 प्रतिशत तथा पुरूष और महिला मतदान का प्रतिशत क्रमशः 66.01 और 61.78 प्रतिशत रहा।

महिला आरक्षित वार्डों में महिलाएं पिछड़ी

पंचायतीराज चुनाव 2020 में तीनों पंचायत समितियों के महिला आरक्षित वार्डों में ही महिला मतदाताओं ने पुरूषों की तुलना में कम मतदान किया। यह अन्तर 4 से 7 प्रतिशत मतदान तक रहा। महिलाओं के लिए आरक्षित वार्डों में राशमी में 68.72 प्रतिशत पुरूष और 61.54 प्रतिशत महिला मतदाताओं ने, कपासन में 64.23 प्रतिशत पुरूष और 57.72 प्रतिशत महिला मतदाताओं ने एवं भूपालसागर में 62.27 प्रतिशत पुरूष और 58.46 प्रतिशत महिला मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया।
बुजुर्गो ने किया सर्वाधिक मतदान, नव मतदाताओं में भी रहा उत्साह

तीनों पंचायत समिति के मतदान के तथ्यों को देखने पर बुर्जुग मतदाताओं यानि 60 वर्ष से ऊपर के मतदाताओं ने मताधिकार प्रयोग में रूचि दिखाई हैं। तीनों पंचायत समितियों के औसत मतदान 64.01 प्रतिशत की तुलना में 60 वर्ष के ऊपर के 68.28 प्रतिशत मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया हैं। सबसे कम मतदान 20 वर्ष से ऊपर एवं 35 वर्ष के मतदाताओं ने किया हैं। इस आयु वर्ग में औसत मतदान 58.69 प्रतिशत रहा हैं। 35 वर्ष से ऊपर एवं 60 वर्ष के 65.77 प्रतिशत मतदाताओं ने तथा 18 वर्ष से 20 वर्ष तक की आयु वर्ग के 66.65 प्रतिशत नव मतादाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया हैं।

मतदाता पहचान पत्र से ज्यादा अन्य दस्तावेजों से मतदान

तीनों पंचायत समितियों में डाले गये कुल 1 लाख 27 हजार 716 मतदाताओं में से करीब 29 प्रतिशत मतदाताओं ने मतदाता पहचान पत्र का उपयोग किया। कुल मतदाताओं में से 37 हजार 294 मतदाताओं ने मतदाता पहचान पत्र और 90 हजार 422 मतदाताओं ने अन्य पहचान दस्तावेजों का उपयोग किया। पंचायत समिति राशमी में 10 हजार 963 मतदाताओं ने मतदाता पहचान पत्र और 32 हजार 519 ने अन्य पहचान दस्तावेजों का उपयोग किया। पंचायत समिति कपासन में 13 हजार 338 मतदाताओं ने मतदाता पहचान पत्र और 31 हजार 217 ने अन्य पहचान दस्तावेजों का उपयोग किया। पंचायत समिति भूपालसागर में 12 हजार 993 मतदाताओं ने मतदाता पहचान पत्र और 26 हजार 686 ने अन्य पहचान दस्तावेजों का उपयोग कर मतदान किया।

कपासन पंचायत समिति में सर्वाधिक दिव्यागों ने किया मतदान

तीनों पंचायत समितियों में से कपासन पं.स. में सर्वाधिक 155 दिव्यांग मतदाताओं ने मतदान किया वहीं सबसे कम 34 दिव्यांग मतदाताओं ने भूपालसागर पं.स. मे मतदान किया राशमी पं.स. में 100 दिव्यांगों ने मतदान किया। कुल 581 दिव्यांग मतदाताओं में से 300 ने बिना किसी की सहायता से मतदान किया वहीं 281 ने पीओ की सहायता से अपन मताधिकार का प्रयोग किया।

अधिकतम 90.34 एवं न्यूनतम 30.36 प्रतिशत मतदान

जिले में तीनों पंचायत समितियों में जहां औसत मतदान 64.01 प्रतिशत मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया वहीं कपासन पंचायत समिति के बूथ नम्बर 5 राबाउप्रावि मुंगाना (दांया भाग)  पर 90.34 प्रतिशत मतदान हुआ। जिले का यह सर्वाधिक मतदान वाला बूथ रहा हैं, वहीं जिले में न्यूनतम भूपालसागर पंचायत समिति के बूथ संख्या 74 राउमावि चौरवड़ी (कक्ष संख्या 1) पर 30.36 प्रतिशत मतदान हुआ। जिले में सर्वाधिक मतदान के क्रम में राशमी पंचायत समिति के बूथ संख्या 7 राउमावि अडाना (पूर्वी भाग 1)  पर 83.58 प्रतिशत तथा भूपालसागर पंचायत समिति के बूथ संख्या 9 राउप्रावि उसरोल (उत्तरी भाग) पर 81.63 प्रतिशत मतदान हुआ जो सर्वाधिक मतदान की दृष्टि से क्रमशः द्वितीय एवं तृतीय स्थान पर हैं। इसी प्रकार न्यूनतम मतदान के क्रम में राशमी पंचायत समिति के बूथ संख्या 72 राउमावि रूद (कक्ष संख्या 11) पर 35.90 प्रतिशत तथा कपासन पंचायत समिति के बूथ संख्या 78 राउमावि करजाली (कक्ष संख्या 3) पर 41.39 प्रतिशत मतदान हुआ।
कुल 294 पोलिंग बूथां में से 40 बूथ ऐसे रहे जिनमें मतदान प्रतिशत 20 से 50 प्रतिशत के बीच रहा जिनमें राशमी प.स. के 13, कपासन पं.स. के 11 और भूपालसागर पं.स. के 16 बूथ शामिल है। उक्त पंचायत समितियों में 253 बूथ ऐसे रहे जिनमें 50 से 85 प्रतिशत मतदान हुआ जिनमें राशमी पं.स. के 88, कपासन पं.स. के 89 और भूपालसागर पं.स. के 76 बुथ शामिल हैं।कपासन पंचायत समिति के एक बूथ पर 85 प्रतिशत मतदान हुआ।

आरक्षित वार्डों मे राशमी में सर्वाधिक मतदान

तीनों पंचायत समितियों में आरक्षित वार्डों के मतदान आंकड़ों में राशमी पंचायत समिति में सर्वाधिक मतदान हुआ है। अनुसूचित जाति के आरक्षित वार्डों में राशमी में 73.19 प्रतिशत पुरूष और 67.06 प्रतिशत महिला मतदाताओं ने, कपासन में 59.98 प्रतिशत पुरूष और 53.77 प्रतिशत महिला मतदाताओं ने, भूपालसागर में 62.43 प्रतिशत पुरूष और 57.42 प्रतिशत महिला मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया।
इसी प्रकार अनुसूचित जन जाति के आरक्षित वार्डो में राशमी में 69.92 प्रतिशत पुरूष और 61.42 प्रतिशत महिला मतदाताओं ने, कपासन में 54.86 प्रतिशत पुरूष और 48.75 प्रतिशत महिला मतदाताओं ने, भूपालसागर में 52.89 प्रतिशत पुरूष और 46.70 प्रतिशत महिला मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया।

Don`t copy text!