प्रदेश में आगामी गुर्जर आरक्षण आंदोलन को लेकर सरकार और प्रशासन अलर्ट, कई इलाकों में इंटरनेट सेवा बंद।

जयपुर से पत्रकार श्री राहुल भारद्वाज कि रिपोर्ट
जयपुर: प्रदेश में आगामी 1 नवंबर से गुर्जर आरक्षण आंदोलन को लेकर सरकार और प्रशासन अलर्ट मोड़ पर है । आंदोलन की संभावना के चलते भरतपुर के बयाना डाक बंगले में एक बार फिर से हलचल शुरू हो गई है।  यहां प्रशासनिक अधिकारियों की आवाजाही शुरू होने लगी है । भरतपुर जिला कलेक्टर नथमल डिडेल और पुलिस अधीक्षक डॉ. अमनदीप सिंह कपूर आज बयाना जाएंगे । इसके साथ ही बयाना, वैर, भुसावर व करौली के कई इलाकों में इंटरनेट सेवा को बंद किया गया है तथा पुर्वी राजस्थान में इस आरक्षण आंदोलन के आसपास के अन्य कई जिलों व गुर्जर बाहुल्य इलाको में भी इंटरनेट सेवा बन्द करने व अतिरिक्त फोर्स की तैनाती सहित सरकार और प्रशासन द्वारा कई तरह की अतिरिक्त सावधानी बरती जा रही है ।

कर्मचारियों और अधिकारियों के अवकाश निरस्त

इसके अलावा आंदोलन प्रभावित क्षेत्रों में अधिकारियों और कर्मचारियों के अवकाश निरस्त किए गए हैं. अधिकारियों के मुख्यालय छोड़ने पर भी पाबंदी लगाई गई है । पुलिस और प्रशासन के अधिकारी लगातार गुर्जर समाज के आला नेताओं से संपर्क साधते हुए उनकी आगामी रणनीति जानने के लिए कवायद में जुटे हुए हैं । वहीं क्षेत्र में इंटरनेट बंद होने से उपभोक्ताओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है ।

राज्य सरकार भी गुर्जर नेताओं को वार्ता के लिये मनाने में जुटी

इधर राज्य सरकार 1 नवंबर से होने वाले आंदोलन को थामने के लिये गुर्जर समाज के नेताओं को वार्ता के लिये राजी करने में जुटी है इसके साथ ही सरकार द्वारा कानून-व्यवस्था को बनाए रखने के लिये एहतियाती अन्य कदम उठाने शुरू कर दिये गए हैं ताकि किसी भी स्थिति से निपटा जा सके ।

गुर्जर नेता अब औपचारिक वार्ता के लिए नहीं हुए तैयार

राज्य सरकार के स्तर पर कैबिनेट सब कमेटी गुर्जर नेताओं को वार्ता की टेबल पर लाने के लिये पूरा प्रयास कर रही है । कैबिनेट सब कमेटी में शामिल गुर्जर समाज के खेल मंत्री अशोक चांदना और चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा गुर्जर नेताओं को मनाने का प्रयास कर रहे हैं । गुरुवार को भी चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला से फोन पर बात की थी परन्तु वे अब तक औपचारिक वार्ता के लिए तैयार नहीं हुए हैं । इससे पहले भी गुरुवार को गुर्जर नेताओं की गैर मौजूदगी में कैबिनेट सब कमेटी की बैठक हो चुकी है ।

Don`t copy text!